Pital ki Gagri song lyrics - मीनाक्षी राठौड़ Lyrics

Pital ki Gagri song lyrics - मीनाक्षी राठौड़ Lyrics

बहुत ही सुंदर सा गीत "Pital ki Gagri song lyrics"  जिसको "एमआर प्रोडक्शन हाउस" ने तैयार किया है जिसके निर्माता-निर्देशक रहे हैं आर. सिंगोदिया और को-प्रोड्यूसर रही है मीनाक्षी राठौड़ जिसमें म्यूजिक दिया है अरविंद जांगिड  ने और अपनी आवाज से सजाया है मीनाक्षी राठौड़ ने, राजस्थान की संस्कृति को जीवित रखने की हमने पूरी कोशिश की है उम्मीद है हमारी कोशिश आपको पसंद आएगी, आपका प्यार और सहयोग बना रहे साथ ही आपके विचार हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर भेजें ताकि हम हमारे कार्य में बदलाव कर सके

Pital ki Gagri song lyrics - मीनाक्षी राठौड़ Lyrics
Singer मीनाक्षी राठौड़
Music अरविंद जांगिड़

Pital ki Gagri song lyrics

पीतल की म्हारी गागरी 
मोत्यां सु बैठ मंडाई
पैरा में घुंघरू बांधके
मैं पाणी भरण ने आई
पीतल की म्हारी टोकनी
जयपूर से मोल मंगाई
पीतल की म्हारी गागरी 
मोत्यां सु बैठ मंडाई
पैरा में घुंघरू बांधके
मैं पाणी भरण ने आई
पीतल की म्हारी टोकनी
जयपूर से मोल मंगाई
धक धक धक धक जिया करें
जद गागरी डूबे पाणी में
म्हारो मुखड़ों नयो लागे में जद जद 
हाय रे जद जद देखु पाणी में
गाला पे लाली आ गई या कुंण ने आग लगाई
पीतल की म्हारी गागरी 
मोत्यां सु बैठ मंडाई
पैरा में घुंघरू बांधके
मैं पाणी भरण ने आई
पीतल की म्हारी .........
पायल बोले छमक छमक 
म्हारा बिछिया शोर मचावे है
म्हारा बिछिया शोर मचावे है
चुनरी म्हारी सरक सरक के
पीव री याद दिलावे है
थे कद आसयो म्हारा सायबा
थारी गौरी उडकती हारी
पीतल की म्हारी गागरी 
मोत्यां सु बैठ मंडाई
पैरा में घुंघरू बांधके
मैं पाणी भरण ने आई
पीतल की म्हारी टोकनी
जयपूर से मोल मंगाई


हमारे Pital ki Gagri song lyrics देखने के लिए धन्यवाद अगर आप इस का आनंद लेते हैं तो कृपया हमारे ब्लॉग की सदस्यता लें हमारे अगले गीत जैसे राजस्थानी गीत, लोक राजस्थानी गीत, पारंपरिक गीत मारवाड़ी गीत हिंदी गीत हरयाणवी लिरिक्स पंजाबी लिरिक्स की सूचनाएं प्राप्त करें। आप सभी को प्यार।

एक टिप्पणी भेजें

please do not enter any spam link in the comment box